Tuesday, 20 September 2016

शेयर ब्रोकरों पर सख्ती की तैयारी

हो सकता है आने वाले दिनों में आपको बीटीएसटी या एसटीबीटी कॉल न मिल पाए, दरअसल सेबी ये नहीं चाहता है। सेबी के इस नए नियम से शेयर ब्रोकरों की नींद उड़ गई है। सेबी, ब्रोकरों के लिए विज्ञापन के नियम तय करने जा रहा है और उसमें काफी कड़े प्रावधान किए गए हैं। ब्रोकरों से सुझाव लेने के बाद ये नियम बनाए जाएंगे।

 

यही नहीं सेबी के नए नियमों के तहत सेलेब्रेटी विज्ञापन का हिस्सा नहीं हो सकते हैं और विज्ञापनों में वादा नहीं किया जाएगा। सेबी इस बात की भी सख्ती करने जा रहा है कि बिना सबूत के कोई जानकारी विज्ञापन में नहीं हो। साथ ही गुमराह करने वाली जानकारी नहीं दी जा सकती है और किसी प्रोडक्ट में रिटर्न का दावा नहीं किया जाएगा। 

 

सेबी के नए नियमों के मुताबिक विज्ञापनों में तकनीकी भाषा का इस्तेमाल नहीं होगा। दूसरे ब्रोकर के विज्ञापन को खारिज करने वाला विज्ञापन नहीं होगा। बिना सबूत नंबर -1, बेस्ट, टॉप जैसे शब्दों का इस्तेमाल नहीं किया जा सकेगा। विज्ञापन के लिए 7 दिन पहले एक्सचेंज की मंजूरी जरूरी होगी। ब्रोकरों को विज्ञापन के लिए एफिडेविट देना होगा।

 

सेबी की इस गाइडलाइंस से शेयर बाजार में निवेशकों की संख्या बढ़ाने की योजना के लिए दिक्कतें पैदा हो सकती हैं।

 

Get live News Updates visit us at Ripples Advisory or One Missed Call on @98-27-80-80-90

No comments:

Post a Comment