Wednesday, 5 October 2016

ऊर्जित पटेल का दिवाली गिफ्ट, घटेगा ईएमआई का बोझ

नए आरबीआई गवर्नर ऊर्जित पटेल ने दिवाली गिफ्ट दिया है। आरबीआई ने नीतिगत दरों में 0.25 फीसदी की कटौती करना का एलान किया है। इस तरह, 0.25 फीसदी की कटौती के बाद रेपो रेट 6.5 फीसदी से घटकर 6.25 फीसदी हो गया है। इसका मतलब ये कि अब बैंकों को आरबीआई से सस्ता कर्ज मिल सकेगा और उम्मीद की जा सकती है कि वो उसका फायदा ग्राहकों तक भी पहुंचाएंगे। ऊर्जित पटेल की गवर्नर बनने के बाद ये पहली क्रेडिट पॉलिसी है। साथ मॉनिटरी पॉलिसी कमिटी बनने के बाद भी ये पहली क्रेडिट पॉलिसी है। मॉनिटरी पॉलिसी कमिटी की अगली बैठक 6-7 दिसंबर को होगी।

 

वहीं रिवर्स रेपो रेट 6 फीसदी से घटकर 5.75 फीसदी हो गया है। रिवर्स रेपो पर ही बैंक अपना पैसा आरबीआई के पास रखते हैं। आरबीआई ने सीआरआर में कोई बदलाव नहीं किया है और ये 4 फीसदी पर कायम है। आरबीआई ने दिसंबर 2016 तक महंगाई दर 5 फीसदी रहने का अनुमान दिया है। मार्च 2017 तक महंगाई दर 5.3 फीसदी रहने का अनुमान दिया है, जबकि मार्च 2018 तक महंगाई दर 4.5 फीसदी रहने का अनुमान है। 

 

आरबीआई ने वित्त वर्ष 2017 के लिए जीवीए ग्रोथ 7.6 फीसदी रहने का अनुमान जताया है, जबकि वित्त वर्ष 2018 के लिए जीवीए ग्रोथ 7.9 फीसदी रहने का अनुमान दिया है। आरबीआई ने वित्त वर्ष 2018 के ग्रोथ का अनुमान बरकरार रखा है लेकिन जोखिम बढ़ गया है।

 

Get live News Updates visit us at Ripples Advisory or One Missed Call on @98-27-80-80-90

No comments:

Post a Comment