Tuesday, 17 January 2017

मंदिर से मंडी तक पहुंचा पेटीएम

ऑनलाइन भुगतान एप पेटीएम ने ऑफलाइन दुनिया में अपनी मजबूत उपस्थिति सुनिश्चित करने के बाद, टोल्स, अस्पताल, जांच केन्द्रों, कैंटीन और पार्किं ग व अन्य स्थानों पर डिजिटल भुगतानों के लिये नए वर्गो का निर्माण किया है। इस तरह पेटीएम एप से मंदिर से लेकर मंडी तक भुगतान स्वीकार किए जा रहे हैं। पेटीएम की वरिष्ठ उपाध्यक्ष किरण वसिरेड्डी ने कहा, "मंदिर से लेकर मंडी और कई अन्य जगहों तक पेटीएम को स्वीकार किया जा रहा है। इसके साथ ही हम अपने सभी मौजूदा वर्गो में मजबूत वृद्धि को संभालना जारी रखेंगे और अपने देश में लाखों-करोड़ों लोगों को कैशलेस बनने में सहायता करने के लिए नए एप लांच करेंगे।" 

कंपनी ने सोमवार को एक बयान जारी कर बताया, "लांच करने के कुछ माह के भीतर ही, पेटीएम अपने नए वर्गो में महत्वपूर्ण अंगीकरण देखा है। सभी राष्ट्रीय, राज्य और सिटी टोल्स में 6,000 सड़कों पर टोल भुगतान को सक्रिय करने के बाद, कंपनी अभी से एक दिन में 20,000 से ज्यादा लेन-देन दर्ज कर रही है और इस वित्त वर्ष के अंत तक इसका लक्ष्य 20 लाख लेन-देन प्रति माह तक पहुंचना है।" इसमें बताया गया कि पेटीएम को देश के हेल्थकेयर उद्योग द्वारा भी अपनाया गया है। एसआरएल, थायरोकेयर, डॉ. लाल पैथलैब्स, 98.4, फोर्टिस, अपोलो फार्मेसी, मेडप्लस और अपोलो ग्रुप हॉस्पिटल्स जैसे सभी बड़े पैथोलॉजी लैब्स, डायनॉस्टिक सेंटर, फार्मेसी और अस्पतालों में भी पेटीएम से भुगतान स्वीकार किए जाते हैं। 

एक दिन में 75,000 से ज्यादा लेन-देन दर्ज करते हुए, यह इस वर्ग में एक दिन में दस लाख से ज्यादा लेन-देन प्राप्त करने का प्रयास कर रहा है। बयान में कहा गया, "पार्किं ग लॉट्स और कापोर्रेट कैफेटेरिया में भी पेटीएम से भुगतान स्वीकार किए जा रहे हैं।

Share and Stock Market Trading/Free Trial click here http://www.ripplesadvisory.com/free-trial.php

No comments:

Post a Comment